acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj kaise

एक्यूप्रेशर बिंदु बराबर दबाव करने से बीमारी का इलाज़ कैसे होता है 

acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj kaise ho sakta hai इस का क्या secret है ! विश्व स्वास्थ्य सगंठन (who) ने भी इस चिकित्सा तकनीक को मान्यता  दी हुई है !

acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj kaise ho sakta hai को समझने से पहले हमें ये समझना होगा ये काम कैसे करती है !

acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj  में प्राण उर्जा भूमिका

एक्यूप्रेशर को सही से समझने के लिए आपको प्राण उर्जा या ( energy theory) को समझना आपके लिए बहुत ही  important है!

हमारी body का पूर्ण संचालन ऊर्जा की activity द्वारा ही होता है जिसे energy motion कहते है!

अलग-अलग country या देश में इस उर्जा को कई नामो से जाना जाता है!

चीन में इसे ची (chi) नाम से जाना जाता है!

जापान में इसे की (ki) नाम से जाना जाता है

और India में इसे प्राण उर्जा और योग में इसे प्राण वायु तथा पश्चिम देशो में इसे bio energy के नाम से जाना जाता है!

ये हम सब का जीवन का source है इसे life force या आत्मा भी कहते है!

Secret acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj kaise ho sakta hai
Secret acupressure point par pressure karne se bimari ka                                 ilaj kaise ho sakta hai

उर्जा (energy) का न निर्माण होता या न ही इसको नष्ट (Destroyed) किया जा सकता है

इसका कोई अंत (end) नहीं है! न कोई शुरुआत है ! जहा इसका अंत  वाही से इसका आरम्भ (Starting) है!

यही वो उर्जा या energy है जो की body और mind में तालमेल बैठा कर शरीर की सभी क्रियाओ या activity को control करती है!

इस energy को देखा नहीं जा सकता है केवल महसूस (feel) किया जा सकता है!

हम life energy या आत्मा की बिना जीवित नहीं रह सकते है!

आत्मा या life force को किसी ने देखा नहीं है पर सब इसको मानते है body आत्मा होती है! इसके बिना body मर जाती है!

ये हमारे body या शरीर के कोशिका या tissue में बहती है! इसकी की help से शरीर की सारी की सारी  activity होती है !

ये energy हमारे daily life के schedule में खर्च होती रहती है! body में भोजन, पानी, वायु से पोषण के रूप में life force की पूर्ति जिंदगी भर होती रहती है!

परन्तु इस energy में imbalance या अतुन्लन की situation होने पर शरीर बीमार पढ जाता है! इसे balance में किया जाता है!

इस तरह acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj किया जाता है

acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj में उर्जा के आवेश की भूमिका

प्राचीन चिकित्सा technique के अनुसार Negative और Positive आवेश में दो परस्पर विपरीत और एक दुसरे के अनुपूरक power है!

अगर आप चाहते है आप healthy रहे तो शरीर में बहाने वाली energy में कोई रुकवाट न आने दे!

अगर body बहने वाली प्राण उर्जा में कही stop या break होती है वही से आपके अन्दर बीमारी को जन्म होता है!

कई Chinese book में ये लिखा है पुरे world में positive और negative दो power मौजूद है जो की दुनिया में balance बनाये हुए है!

ये power एक दुसरे के अन्दर आती जाती रहती है!

इन्हें चुम्बक की तरह अलग नहीं किया जा सकता है

अंग डी. नी. जिंग के अनुसार (“the universe is a state of oscillation of the force of negative & positive”)

वो कहते है जैसे की धरती में एक तरफ south और दूसरी तरफ north होते है

earth की normal situation में दोनों power balance में रहती है! और अगर इनका balance बिगड़ता है

धरती पर प्राकृतिक आपदाये (Natural calamities ) आना start हो जाती है! जैसे भूकंप (Earthquake) का आना, बाढ़ का आना, ज्वालामुखी का फटना, तूफ़ान का आना आदि!

chinese Philosophy के अनुसार human भी इसी सृष्टि (nature) की भांति उन्ही तत्वों से बना है!

इस प्रकार human भी इस nature की सूक्षम इकाई (Micro unit) है!

और सृष्टि को Representation करता है!

यही reason है की मनुष्य की body का nature से Direct connection जुड़ा हुआ है!

इसलिए कोई भी वस्तु न तो बिलकुल negative होती है न ही positive होती है

प्रत्येक negative में सदा कुछ positive और कुछ positive में सदा कुछ negative हमेशा रहता है!

इन में प्राण उर्जा की power व्याप्त है! ये पूरी nature का basic सिद्धांत है!

वे ही सब चीजों को Generated करती  है और एक दुसरे में Changing करती  है! प्राण उर्जा (Soul energy) ही life है!

Acupressure चिकित्सा में acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj किया जाता है!

इस technique का मनाना है की human body में कुछ ऐसे point होते जिन पर दबाव या pressure करने हमारे बितर मौजूद Internal energy power को active करके!

हम सभी प्रकार के बीमारियों का इलाज़ प्रभावशाली ढंग से Quickly और easily किया जा सकता है!

विश्व स्वास्थ्य सगंठन का क्या कहना  Acupressure चिकित्सा के बारे में ?

Acupressure चिकित्सा की technique के Benefits को विश्व स्वास्थ्य सगंठन ने Accept किया है!

और ये कहता है

Migraine या अन्य सिर दर्द,

पीठ का दर्द,

मेरुदंड के रोग में (spinal cord disease) ,

ब्रोंकाइटिस,

दमा (asthma),

नाड़ियो का दर्द (neuralgia),

आदि रोगों में Acupressure treatment technique को बहुत कारगर बताया है!

दोस्तों आप इसे पोस्ट समझ गये होगे की acupressure point par pressure karne se bimari ka ilaj kaise ho sakta hai.

अगर मेरी post आपको अच्छी लगी like और share जरुर करे !

Leave a Comment