antibiotics side effects kya ho sakte hai hindi me

antibiotics side effects  क्या हो सकते है? समझने से पहले हमें इस के बारे जानने होगा ये क्या होती है और कैसे work करती है !

Antibiotics जिससे दुसरे word में medicine कह सकते है !

Alexander Fleming ने 1928 में first प्राकृतिक (natural) antibiotic penicillin की खोज (discovered) की!

जिस की future बहुत अच्छी growth होगी ये Alexander Fleming ने कह दिया था!

antibiotics side effects kya-kya ho sakte hai

reads also: चिंता क्यों होती चिंता का disorder क्या है ?

depression क्यों हो जाता है ? 

गुस्से को control कैसे करे ? 

इसे जीवनुरोधी (antibacterial) भी कहा जाता है

ये दवाये जीवाणुओ (bacteria) को या तो उस पूरी तरह से ख़तम (destroy) कर देता है या उस धीमा (slow) कर देता है !

इनमे कई शक्तिशाली दवाये (drugs) शामिल है जो की बैक्टीरिया के कारण होने वाली बीमारयो (diseases) के treatment के लिए use करते है !

एक important बात antibiotics viral संक्रमण (infections), जैसे सर्दी (cold), फ्लू और ज्यादातर खांसी (coughs) का इलाज़ (treat) नहीं कर सकते है !

bacterial infection के खिलाफ antibiotics ineffective भी हो सकती है!

Bacterial infection के लिए अगर एक doctor antibiotics लिखता है तो work नहीं करते है!

क्युकि viruses सबसे ऊपरी सास लेने रस्ते में संक्रमण (upper respiratory tract infection)

का कारण बनते है!

जिसमे common है सर्दी और flu. जिसमे antibiotic इन viruses के खिलाफ काम नहीं करते है!  

एक doctor बड़े infections के लिए board-spectrum antibiotic लिख सकता है! क्युकि narrow spectrum antibiotic केवल कुछ types bacteria के खिलाफ प्रभावी है!

कुछ दवा aerobic bacteria पर हमला करती है, और कुछ anaerobic bacteria पर हमला करती है! एक बार दोनों bacteria के deference को समझ लेते है!

aerobic बैक्टरिया को OXYGEN की जरुरत होती होती है और anaerobic बैक्टीरिया को नहीं है !

कुछ पर कुछ CASE doctor लोगो पहले ANTIBIOTICS देते है जिसे बाद में इन्फेक्शन न हो! जैसे orthopedic surgery या कोई दूसरी surgery.  

antibiotics कैसे काम करती है ?

बहुत तरह की medicine या एंटीबायोटिक्स है, जो की मुख्या रूप से दो तरीको में 1 मे work करती है

  1. जीवनुनाशक (bactericidal) एंटीबायोटिक्स जो bacteria को मारता है जैसे penicillin.
  2. बैक्टीरियोस्टेटिक बैक्टीरिया बढने से रोकता है !

दवाए या medicine की आवशयकता क्यों है ?

कुछ common दवा medicine जो doctors लिखते है!

हम सब body की एक प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) होती  है हानिकारक bacteria और virus से बचता है! बैक्टेरिया multiply और बीमारियों को बनाने लगे उससे पहले हमारा immune system उन्हें मार सकती है

white blood cells (WBCs) हानिकारक bacteria हमला करती है किसी बीमारी symptoms या infection सामना और उससे लड़ सकती है !

पर अगर ये हानिकारक bacteria की संख्या बहुत हो जाये तो हमारी body का immune system उन सभी लड़ नहीं सकता है !

कुछ common दवा या medicine जो doctors लिखते है! ये powerful दवाये होती जो कुछ संक्रमण (infections) से लडती है और इसका सही इस्तेमाल होने life बचा सकती है!

 ऐसे में एंटीबायोटिक्स या medicine बहुत उपयोगी है !

virus aur antibiotics side effect

reads also : alkaline water kya hai ?

क्या आपको पता है alkaline water पीने से आपकी body कैंसर tissue पैदा नहीं होते !

men sexual problem क्या होती है और इसके treatment में side effects भी  होते है  antibiotics side effects की तरह

एक husband को women sexual problem जानकारी होनी चाहिए ?

जीवाणु या bacteria क्या होता है ?

हमारे body में बहुत काम जीवाणुओ के help से होते है !

इस कुछ bacteria good होते जो healthy स्वस्थ बनया रखते और कुछ bad bacteria होते है,

जो body को सही work नहीं करने देते है !

ये हमारी body में बहार से आ सकते है या हमारे खाने-पीने से body के अन्दर भी develop हो सकते है!

प्रतिरोध (resistance) और allergy रिश्ता Antibiotics side effects से

कुछ medical professionals की चिंता इस बात की है लोगो antibiotics का ज्यादा use कर रहे है और उनका believe ये है

ऐसे करने जीवाणु उन दवाओं आदि हो जाए और ऐसे bacteria की संख्या बड़ा सकते जिन पर कुछ time दवा का असर होना बंद या कम हो सकता है !

Alexander Fleming ने 1945 में NOBEL PRIZE ACCEPTANCE SPEECH में बोलते हुए कहा

एक अज्ञानी person दवा या drug की uderdose या ज्यादा मात्रा लेने जीवाणुओ को प्रतिरोध ( resistance) बना सकता है !

इसलिए दवा की quantity very important है! अगर इस ध्यान नहीं antibiotics side effects की possibility बहुत ज्यादा बढ जाती है !

कुछ लोगो की body medicine से एलर्जी develop कर सकती है खास कर penicillins. इसे ये side effects हो सकता है

body पर दाने (rush), जीभ और चेहरे की सुजन (swelling) और सांस लेने में दिक्कत का होना !

medicine से allergy कब होगी ये कोई निश्चित नहीं होता किसी उस time reaction होने लगते किसी कुछ time के बाद!

अगर आपको किसी दवा या antibiotic से allergy है,तो उसे अपने doctor या pharmacist को सबसे पहले बताये!

क्युकि जो medicine लोगो टीक कर रही है इन दवाओ का reations बहुत serious और जानलेवा हो सकता है! इसे anaphylactic reactions कहते है!

kidney और liver कमजोर वाले person को दवा के प्रति ज्यादा सतर्क रहना चाहिए! अगर वो कोई दवा ले रहे है दूसरी दवा लेने से पहले doctor suggest पर ही ले! Pregnant breast-feeding

इस तरह pregnant women और दूध पिलाने (breast-feeding) वाली माँ को भी कोई दवा या medicine लेने से पहले doctor advice लेनी चाहिए!  

note :  minster of health & family welfare government of India  और world health organization India 

antibiotics side effects  या medicine  दवाओं का दुरुपयोग (misuse) हम सभी  की life को खतरे में डाल सकता है !

antibiotic resistance को समझे !  एंटीबायोटिक-प्रतिरोधी संक्रमण (infection ) का इलाज के लिए अधिक complex और कठिन हैं। वे किसी भी उम्र (age) किसी भी देश (country) में किसी को भी प्रभावित कर सकते हैं।

हर बीमारी के  treatment  का हमेशा जवाब medicine नहीं होते हैं।

हमेशा medicine  या  एंटीबायोटिक लेने से पहले एक doctor ya health professional   सलाह जरुर लें।

जो आपको suggest की जाये सिर्फ वोही medicine या दवा  लें, उन्हें family या  दोस्तों  के साथ साझा न करें।

Leave a Comment