सफल व्यक्ति कैसे बने 1 successful person

सफल व्यक्ति कैसे बने कैसे हम अपना नाम दुनिया के successful person में लिखवा सकते है

 सफलता किसी एक चीज़ पर निर्भर नहीं करती है इस के लिए  कई चीज़ जिम्मेदार होती है ! पर सबसे बड़ी चीज़ है आपकी अपनी सोच ! अगर आप  सच में एक successful person बनाना चाहते है

तो के आपकी सोच हमेशा बड़ी है होनी चाहिये  ना की छोटी ! किसी चीजों समझने के लिए में अपनी पोस्ट कहानियो का माध्यम लेकर आपको समझने की कोशिश करुँगा !  आपकी की सोच आपको सफल व्यक्ति कैसे बने सकती है!

सफल व्यक्ति कैसे बने 1 successful person
सफल व्यक्ति कैसे बने 1 successful person

         1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम

            नकारात्मक विचार का नकारात्मक भावना से क्या रिश्ता है?

nick vujicic Hindi story 1 real life hero

 ये जरूरी नहीं है आपका future भी आपके अतीत की तरह ही हो 

कुछ वैज्ञानिक एक मछली के साथ प्रयोग किया एक बड़ी मछली को एक्वेरियम  में  रखा और उसके पेट भरने के लिए उस fish tab में छोटी-छोटी मछलियाँ डाल रखी जिसको खाकर वो अपना पेट भारती थी!  वैज्ञानिक ने उस एक्वेरियम के पास कैमरे लगा रखे थे जिससे उस  मछली  सभी activity  उस रिकॉर्ड हो जाये !

मछली उस एक्वेरियम में घुमती फिरती और जब भी उसे भूख लगती वो छोटी मछली को खाकर अपना पेट भर लेती! कुछ time बाद वैज्ञानिक ने situation को बदल डाला!

उन्होंने बड़ी मछली और छोटी मछलिया के बीच एक काँच की दिवार लगा दी ! मछली एक्वेरियम पहले की तरह  घुमती रहती है जब उसको भूख लगती है वो छोटी मछलियों को खाने के लिए कोशिश करती है वह काँच की दीवार टकरा जाती है !

उस मछली ने कई बार छोटी मछलियो को खाने की कोशिश कई बार करी पर हर बार को असफ़ल हो जाती है काँच की दीवार टकराकर वो थोड़ी घायल भी हो जाती है फिर भी वो अपना भोजन पाने में कामयाब नहीं हो पाती है!

वैज्ञानिक ने देख बड़ी मछली बहुत भूखी है अगर अब उसे कुछ time तक और भोजन ना मिले तो वो मर जायेगी ! वैज्ञानिक ने उस काँच दीवार को हटा दिया की बड़ी मछली छोटी मछलियों को खाकर अपना पेट भर ले !

आपको क्या लगता है बड़ी fish का पेट भर गया होगा हा या नहीं 

बड़ी fish और छोटी fish के बीच की काँच की दीवार को हटा दिया जिससे छोटी मछलिया उस एक्वेरियम में चारो और घुमने लगी जहा बड़ी मछली थी जो की भूखी थी ! भूखी मछली आसानी से छोटी मछलियों को खाकर आसानी से अपनी भूख को मिटा सकती है!

पर हैरानी की बात है चारो और घुमती छोटी मछलियों को घूमते हुए देखते हुए भी बड़ी मछली ने उन्हें खाने की कोशिश तक नहीं करी !

क्युकि मछली को अपनी पहली की  कोशिश से यकींन हो गया की वो छोटी मछलियों को नहीं खा सकती है और कुछ time के बाद बड़ी मछली मर जाती है

ऐसा क्यों हुआ

ऐसा बिलकुल भी नहीं था की बड़ी  मछली के पास खाने की कोई कमी थी!

पर मछली को ये विश्वास हो चूका था की  आप वो छोटी मछलियों को खा नहीं सकती है!

इस प्रकार कितने ही सारे लोग के सामने कैसे situation आती है ? जिसमे कोई person ने कोई काम शुरू किया हो और उनको उस काम में असफलता का मुंह देखना पड़ हो! जिसकी वो जब कोई काम करने को सोचते है उनके सामने अपने अतीत वो बाते सामने आ जाती है जिसमे उसको असफलता मिल चुकी होती है!

उसे व्यक्ति को भी मछली की तरह ये यकींन हो चूका होता है की वो एक successful person नहीं बन सकता है ये जरूरी नहीं है आपका future भी आपके अतीत की तरह ही हो

आप मछली की story से समझ गए होगे सफल व्यक्ति कैसे बने !

Leave a Comment