1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम

विश्वास और जोखिम की प्रेरणादायक कहानी Charles Blondin की life story  आपको 1 Inspirational Story Faith and Risk दोंनो  बारे में जाने का मौका मिलेगा !

 

1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम
1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम

charles blondin जिनका असली नाम francois gravelet था उनका जन्म 28-2-1824 फ़्रांस में हुआ था! वे 6 साल की age में ही circus में काम करने लगे थे उनके करतबों के वजह से the little wandar नाम वो लोकप्रिय हो गए थे!

उन्होंने साथी एक्रोबैट्स रेवल faimly के साथ यात्रा करते हुए अमेरिका पहुचे और नियाग्रा फाल्स के दीवाने हो गये ! उन्होंने एक रस्सी पर चलकर नियाग्रा फाल्स पार करने की कसम खाई!

नियाग्रा फाल्स पर करने में charles blondin को एक ऐसा आदमी मिल गया जिसने उन कसम को पूरा करने में उनकी मदद की उसने एक 3 इंच व्यास की एक रस्सी फाल्स के आर-पार बांध दी!

इस रस्सी की पानी से उचाई लगभग 50 मीटर  ऊपर बंधी हुई थी!

charles blondin जिनकी कसम नियाग्रा फाल्स को पार करने उनको famous और महान बना दिया! Inspirational Story Faith and Risk

14-9-1860 charles blondin ने नियाग्रा फाल्स को रस्सी पर चल पार करी उन्होंने 11000 फिट से अधिक की दुरी को पार किया! वो ऐसे पहले व्यक्ति बन गए जिसने ये काम किया था!

इस महान साहसी करतब को देखने के लिए कनाडा और अमेरिका दोनों देशो के लोगो मिलो दूर ये देखने आये थे!

नियाग्रा फाल्स को रस्सी पर चलकर पारकर एक सामान्य person के लिए एक पागलपन से काम नहीं है परन्तु वोही काम अगर कोई 17 बार करके दिखये तो ये 1 Inspirational Story से कम नहीं है जिसमे विश्वास और जोखिम देखने को मिलता है !

charles blondin 160 पानी से ऊपर कई रस्सी पर चलने का साहसी काम किया एक बार तो उन्होंने अपनी आँखों पर पट्टी बाँध कर रस्सी को पार किया ! एक सर पर बोरा रखा कर पर किया!

एक उन्होंने दौड़ कर कर रस्सी को पार किया! कई बार तो वो सिर के बल रस्सी पर खड़े हो जाते !

एक बार तो वो अपने साथ एक स्टोव ले गए और  नियाग्रा फाल्स पर करते वक्त रस्सी पर बैटकर वो आमलेट बनाते है और उसको खाते है फिर वे रस्सी को पार करते है!

charles blondin ने नियाग्रा फाल्स रस्सी से पार करते वक्त कई बार पहियेदार गाडी को धकेलते हुए रस्सी को पार किया और दर्शको को चुनौती देते थे की उसमे बैठकर मेरे रस्सी को पार करे!

एक बार prince of वेल्स भी charles blondin के पर्दशन को देखने आते है 

शायद उन्होंने ने भी उनके बारे Inspirational Story सुनी होगी! जब उन्होंने उनके सामने नियाग्रा फाल्स को रस्सी पर पहियेदार गाडी को धकेलते हुए पार करते हुए देख लिया तो सभी लोगो जो उनको देख रहे थे तालिया बाजने लगते है!

charles blondin prince की और देखते और पूछते है अब तो आपको ये believe (विश्वास) हो गया होगा जो लोगो कहते है मेरे बारे में!

मै वो कर सकता हु !

prince ने कहा हा मुझे विश्वास है ”

इस  charles blondin ने prince से कहा की अगर आपको सचमुच विश्वास है मेरी पहियेदार गाड़ी पर बैठकर जाए मै आपको नियाग्रा फाल्स के ऊपर से रस्सी से दूसरी और लेकर चलता हु!

इस पर prince ने कुछ भी नहीं कहा वो सुखी जमीन पर ही रहे !

क्युकि ये question Faith and Risk जुड़ा हुआ है 

faith यानी विश्वास और risk यानी जोखिम

आज अनगिनत लोगो ऐसे मिलेगे जो दुसरो के अवसर या  किसी काम में success को  देखकर कहा सकते  ” मै भी ये काम कर सकता हु! deferentially ये possible है

पर किसी लक्ष्य को पाने के लिए सिर्फ विश्वास काफी नहीं होता है ! विश्वास  तो लोगो करते है पर उस काम करने का कोई जोखिम नहीं लेते है!

विश्वास करना तो आसन है पर काम करना मुश्किल है! इसलिए वो एक दर्शक बन ही बाते करते है जो की ज्यादा आसन है!

prince अगर उनकी  charles blondin की बात को मानते हुए पहियेदार गाड़ी पर बैठते तो ये जीने मरने की बात हो जाती !

ऐसा जोखिम prince बिलकुल भी लेना नहीं चाहते थे!

ये जीवन के दुसरे क्षेत्रो में भी यही बात लागू होती है

अगर किसी business में आप कामयाब होना चाहते है आपको उन चुनौती  का सामना करना पड़ेगा जो उस business में सामने आया सकती है

चनौती जितनी बड़ी होगी जोखिम भी उतना बड़ा होगा! चुनौती का सामना करने और जोखिम को उठाने आस्था या faith की जरुरत पड़ती है

अगर विश्वास सच्चा है आप भी  उस कामो बार-बार  हर बार कर पायेगे जिस प्रकार charles blondin  नियाग्रा फाल्स को पार करते थे! जो समय के साथ विश्वास और शक्तिशाली हो गया था!

charles blondin  70 की उम्र तक हैरतअंगेज करतब करते रहे जिसने उनको मशहूर और आमिर बना दिया उनकी मौत 1897 में उनके अपने महल में हुई!

1 Inspirational Story Faith and Risk
1 Inspirational Story Faith and Risk

आपके पास दो रस्ते है काम करने वाला बने या आलोचक आप इनमे से  किया बना चाहते है 

आपको पता आलोचक कौन होता है वह व्यक्ति को खुद उस काम को नहीं कर सकता है वो दुसरो की गलतिया निकलता है उस काम मूल्यांकन जो दुसरो ने किया है ! जिसे वो करने की कभी कोशिश ही नहीं करता है !

सफलता को पाने के लिए आपको काम करने पड़ेगा ! उस सफलता पाने के लिए जोखिम लेने पड़ेगे जिसके कर्म की जरूरत है अगर सच में आपके पास कोई सपना या लक्ष्य है जिसे अप पाना चाहते है

उसको किस तरह किया जा सकता है ये सीखना चाहिए जिससे आपको असफलता न मिले!

अपने सपने की तरफ पूरी उर्जा और पूरी एकाग्रता के साथ उसकी तरफ दौड़ना शुरू करे!

Negative thoughts ka negative emotion se kya relationship hai ?

ये Inspirational Story Faith and Risk को बाताती है जो की जोखिम और जिम्मेदारी से जुड़ा है

आप योजना बनाकर काम करे ! बिना योजना के ….. बिना ये विचार के की इस से आपको किया हासिल होगा ……….

आप जो पाना चाहते है उसकी स्पष्ट तस्वीर देखे बिना ……. अगर आप कोई काम करके जोखिम लेते है तो ना सिर्फ वो गैर-जिम्मेदाराना काम है बल्कि एक मुर्खता है !

आप जो भी लक्ष्य या सपना देखते है उसके सभी पहलुओ पर अच्छी तरफ विचार कर ले और कसम या संकल्प ले अगर वो जोखिम लेने योग्य है,

तो आपको तत्काल से काम को करने का साहस जुटा लेना है और काम करना शुरू कर देना है !

Watch short video जिसमे आपको चालर्स ब्लोडीन देखने को मिलेगे  click here

दोस्तों आपको 1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम  की मेरी ये पोस्ट कैसे लगी अगर अच्छी लगी हो आगे जररू share करे जिससे लोगो को प्रेरणा मिला सके जिससे वो कामयाबी को पाने के लिए आपनी कोशिश में जान लगा दे !

1 thought on “1 Inspirational Story Faith and Risk विश्वास और जोखिम”

  1. My brother suggested I may like this blog. He was once totally right.
    This post actually made my day. You cann’t believe just how
    much time I had spent for this information! Thanks!

    Reply

Leave a Comment