Love marriage aur ladkiyo ka ghar se bhag janaa

Love marriage aur ladkiyo ka ghar se bhag janaa  के  बाद  उसके  पिता  वह इस world का सबसे अधिक टुटा हुआ person होता है खासकर India में !

पहले वो महीनो तह आपने घर से निकलता नही है! और फिर जब निकलता है तो हमेशा सर को झुका  कर चलता है!

जब उसके आस-पास के लोग मुस्कुराते (smile) उसका चेहरा (FACE) को देख कर use लगता है जैसे लोग (people) उसी को देख कर हंस रहे है!

वह जीवन भर (life time) किसी से तेज़ आवाज़(sound sound ) में बात नहीं करता, वह डरता (fear) है

की कही कोई उसकी भागी हुई बेटी का नाम न ले ले … वह जीवन भर डर-दर कर रोज़ मरता (DEATH) है!

पुराने दिनों में एक word होता था “ मोछ-भादरा जिस पिता (father) की बेटी घर से भाग जाती थी,

उसे उसी दिन हजाम (नाइ) के यहाँ जा कर आपनी मुछे मुडवा लेनी पड़ती है! यह ग्रामीण सभ्यता का अलिखित सविधान था! तब आदमी दो ही बार मुछे मुड़ता था,

एक पिता की death पर दूसरा बेटी के भागने पर ! बेटी का भागना तब पिता (FATHER) की मौत से अधिक दर्द और पीड़ादायक बेटी का भागना होता था!

आज के time बस इतना change हुआ है अब पिता पूछे नहीं मुडवाता पर दर्द और पीड़ा आज भी वही महसूस करता है!

घर से भागना लड़का हो या लड़की

वैसे ये कडवी सचाई यह है की बेटे (SON) के भागने पर पिता कम दुखी (sad) होता है, बेटियों  से भागने से पर अधिक दुखी और टूट जाता है! सुनने में गलत लगता है न भेदभाव जैसा है न यह?

इस भेदभाव का कारण (reason) है! Love marriage से डर 

भारतीय समाज अपनी बेटियों को ले कर कर इतना सवेदनशील क्यों रहा है? India की इतिहास पढिये !

हर्षवर्धन के बाद तक, यानी सातवी-आठवी शताब्दी तक वसंतोत्सव माने जाने का प्रमाण (prove) है!

जिसमें वसंत के दिनों में एक महीने का उत्सव, जिसमे विवाह योग्य युवक-युवती अपनी इच्छा से आपने जीवन साथी (husband) चुनती थी और समाज उसे पूरी मान्यता देता था जिसे आप प्रेम विवाह भी कह सकते है!

कितना आश्चर्जनक है न, की आज उसी देश में कुछ ऐसी भी पंचायते या समाज है

Love marriage
Love marriage aur ladkiyo ka ghar se bhag janaa

जो प्रेम करने पर मृत्युदंड तक देती है क्यों ?

India में पर आक्रमण करने वाला FIRST अरबी “ मोहम्मद बिन कासिम” भारत में धन के साथ और क्या लुट लुट कर ले गया, जानते है? सिन्धु नरेश दाहिर की दो बेटिया…..

उसके बाद भी हर आक्रमणकरी यही करता रहा है! गोरी, अज़नवी, तैमुर सबने एक साथ हजारो लाखो बेटियों का अपहरण किया क्यों? प्रेम विवाह (love) के लिये नहीं !

बलात्कार करने के लिये और यौन दासी बनाने के लिये!  भारत ने किसी भी देश की बेटियों को नहीं लुटा है,

पर भारत की बेटिया सबसे ज्यादा लुटी गई है!  इतना लुटा की भारत आपनी बेटियों को सात पर्दे में छुपाने लगा!

उसे आपने प्राण ( LIFE) से अधिक आपनी बेटियों की चिंता सताने लगी! वो आपनी बेटियों की और देखने वाली अच्छी और बुरी आँखों से डरने लगा,

बेटियों को लोगो की आँखों से बचना बाप का सबसे महत्वपूर्ण कर्तव्य बन गया! जो पिता आपना यह कर्तव्य नहीं निभा पता,

समाज ने उसके लिये समाज ने उसके तिरस्कार तय किया जो आज भी चल रहा है!

भारत में एक common father आपनी बेटी के प्यार से नहीं डरता, वो आपनी बेटी के लुटे जाने से डरता है!

भागी हुई लडकियों के समर्थन में खड़े होने वालो का गैग अपने हज़ार विमर्शो में एक बार भी इस मुद्दे पर बोलना नहीं पसन्द करता!

भागने के साल भर बाद लड़की के प्रति उस हवस के भाव “ जिसे लड़की प्रेम समझ बैठी थी” जब कम होने लगता है

उसका प्रेमी आपने दोस्तों से बलात्कार क्यों करवाता है या उसे कोठो पर बेच देता है या उसे अरब देशो में लड़की सप्लाई करने वालो के हाथ बेच देता है! चौकाने वाली बात है ना?

पर ये सच्चाई है दोस्तों, देश के हर relight area में घुमने वाली या मरने वाली “love” के नाम पर फसाईं जाती है! उन लडकियों पर उस “धूर्त प्रेम” पर कभी चर्चा नहीं होती है!

उनके लिये कोई मानवधिकारी, स्त्रीवादी,कोई विमर्श नहीं छेड़ता है!

यही प्रेम का सच है, यह भागी हुई लडकियों का सच है! प्रेम के नाम पर “पट या फस” जाने वाली मासूम लडकिय नहीं जानती की वे अपने लिये लिये और आपने पिता के लिये कैसे बहुत बड़ा दर्द खरीद रही है!

भागी लडकियो का पिता इस world का सबसे दुखी इंसान हो जाता है!

 

प्रेम विवाह या love marriage 90% success नहीं होती है! 

दुनिया में इस बात के prove भरे पड़े है की love marriage या प्रेम विवाह 90% लोगो इस में असफल होते है अगर लड़की किसी प्रेम करती हो तो क्या घर भाग शादी करना क्या सही है?

माँ-बाप क्या आपने बच्चो से प्रेम नहीं करते है! वो बच्चे जिनको वो बचपान से पालते है almost 20 साल से आस-पास का प्रेम पर कुछ दिनों का या साल प्रेम उस प्रेम पर भरी पड जाता है! Love marriage के लिए एक लड़की प्यार में अंधी होकर घर से भाग जाती है!

अगर बच्चे सच में किसी को प्रेम करते है तो उनको आपने माता-पिता से बात कर उनको प्रेम विवाह के लिये मना चाहिए अगर वो सही है वो मान भी जायेगे क्योकि हर माँ- बाप आपने बच्चो की ख़ुशी ही चाहते है!

Leave a Comment