MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY

MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY इस में मूसा अलैहिस्सलाम फिरोन के पास खुदा पर फिरोन को यकींन दिलाने और अपने आपको खुदा न कह न लोगो से आपनी पूजा करवाए समझने के लिये गए!

ये फिरोन कौन था ?

फिरोन ऐसा जालिम बादशाह(KING या राजा) था जिसने यह एलान कर दिया था की में ही सबसे बड़ा खुदा (GOD ) हु उस वक्त हज़रत मूसा अलैहिस्सल्म नबी थे !

फिरोंन अपनी जनता(public) या उस जगह पर रहने वालो ये हुक्म(ODER)देता था की मुझे तुम खुदा(god,अल्लाह) मनो और अपनी सूरत और शक्ल की मूर्ति ( बुत )बनवा कर जनता PUBIC(कौम के लोगो) को देता था ताकि वे मूर्ति तुम मुझसे नजदीक कर दे!

MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY
MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY

फिरौन किसी खास PERSON या आदमी का नाम नहीं था, बल्कि उस time में मिस्र के हर KING (बादशाह) को फिरौन कहते थे! जो फिरोन हजरत मूसा अलेहिस्स्लाम के time में था,

 उस time  के फिरोन KING का नाम वलीद बिन मूसअब बिन रय्यान था! कुछ लोग  ने फिरोन(KING) का नाम मूसअब रयान कहा है! सुना में आता है की लोगो ने फिरोन से यह बात कही थी की बनी इसराइल में एक ऐसा PERSON या नबी या आदमी पैदा होने वाला है जिस की वजह से (इसराइल के गुलाम)) फिरोंन(राजा या KING) के पंजे से रिहाई(FREEDOM) पायेगे और उन को बहुत  तरक्की (ख़ुशी या HAPPINESS) हासिल होगी !

यह सुन कर फिरौंन ने हुक्म दिया की बनी इसराइल में जो लड़का(BOY) पैदा हो, वह मार (KILL कर)दिया जाए!

सुनने में आया है कुछ कहते है की फिरोंन ने एक DREAM (सपना) देखा था की एक आग बैतुलमक्दिस से निकली और मिस्र के घरो को आ लगी है, लेकिन बनी इसराइल के घर उस आग से बचे गए है!

  इस को उससे ( DREAM) सपनो की ताबीर (स्वप्न फल) बातने वालो को बयान किया तो उन्होंने बाताया की बनी इसराइल में एक लड़का पैदा होगा, जो मिस्री हुकूमत ख़तम करने की वजह बनेगा!

 इस डर(FEAR) से फिरोंन ने वह हुक्म दिया था ! इसी बीच में मूसा अलेहिसल्लम पैदा हुए और अल्लाह ने उन की फिरोनियो के हाथ से उन की जान को बचाए रखा !

आखिर मूसा अलेहिस्सालाम फिरोंन की तबाही और इसराइल के लोगो फिरोन के पंजो से छूटने में वजह बने!

खुदा (अल्लाह) (god) मूसा को कुछ POWER या निशानिया दे कर मूसा फिरोंन के सरदारों(या उनके साथ) वालो के पास गए और कहा में अल्लाह का में पैगम्बर (GOD का MESSAGER) बन कर आया हु ! ऐ फिरोंन मुझसे खुदा ने भेजा है और जो में कहुगा सच (TRUTH) कहुगा !

 में अपने और तुम्हारे परवरदिगार (god) की तरफ से निशानी ले कर आया हु ! तो तुम आपने गुलाम लोग बनी इस्राइल को मेरे साथ या से जाने(रुखसत) होने दो!

फिरोन (किंग) ने कहा की अगर तुम GOD (अल्लाह)की तरफ से खुदा की निशानिया ले कर आये हो तो लाओ और दिखाओ!

मूसा आपने साथ एक लाठी लाये हुए थे उस लाठी को मूसा ने जमीन पर डाली ही थी तो वह बहुत ही DENGER अजगर बन गया ! फिरोन किंग और उस के आस- पास बैठा कर हर इंसान (PERSON) आपनी आँखों पर भरोसा नहीं कर प् रहा था और डर (FEAR) के मारे कापने लगा था!

मूसा ने अपनी लाठी यानी अजगार को उठा लिया फिर लाठी बन गई! फिरोन(बादशाह) के पास जनता(PUBLIC) में सरदार थे कहने लगे यह बहुत बड़ा जादूगर लगता है इस का इरादा(aim )यह है की तुम को तुम्हारे मुल्क(देश) से निकाल दे, तुम्हारी की सलाह (advise) है उन्होंने फिरोंन से कहा अभी आप इस को कुछ न कह अभी आप इस जाने दीजिये, फिरोन ने मूसा को कुछ time के बाद आने को कहा, फिरोन आस-पास और दूर- दूर के माहिर जादूगर को बुलाया और तुम जादू दिखा कर मूसा को हारा देना,

Khwaja Garib Nawaz life story Hindi me

जादूगर कहने लगे अगर हम जीते(winer) हुए तो हमें इनाम देना! मूसा को और जादूगर सब आमने-सामने थे! जादूगरों ने कह दिख कुछ मूसा तुम ही दिख औ जदुगारो ने आपने पास से रस्सिया और लाठिया थी

 जमीन डाल दी! और लोगो (public) की आँखों पर जादू कर दिया(नज़रबंद कर दी)लाठिया और रस्सिया साप बन बन कर लोगो(public) को डरने लगी! खुदा मूसा पर वह्य भेजी की तुम आपनी लाठी डाल दो ये जादुगार के सांपो को (one by one) निगाल जायेगी! फिर जो हक़ पे थे या सचे थे वो साबित हो गया! फिरोन के जादूगरों की हार हो गई इस से फिरोन भी जलील हो कर रहा गया!

जादूगर का इस्लाम पर ईमान लाना MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY

ये सब देख कर जादुगार सज्दे में गिर गया हम पुरे जहाँन के परवरदिगार(god, अल्लाह, ईश्वर) पर ईमान लाये! मूसा के परवरदिगार पर! फिरोन ने कहा इस पहले में तुम्हे इज्जात देता तुम उस पर ईमान लियाए ? बेशक (कोई dount न होना) यह फरेब (धोखा) है जो तुम ने मिल कर करा है

ताकि हमें डरा कर यहाँ से निकल दो! उसका नतीजा तुम्हे बहुत जल्द पता चल जाएगा ! फिरोन ने जादूगरों से कहा में तुम्हारे एक तरफ के हाथ और दूसरी तरफ का पाँव दुगा और फिर तुम सब को सूली पर चढवा दुगा!

जादूगर बोले हम आपने परवरदिगार (अल्लाह, god, ईश्वर) की तरफ लौट कर जाने वाले है इस सिवा तुझे हमारी कौन-सी बात बुरी लगी है जब हमारे परवरदिगार (अल्लाह, god, ईश्वर) की निशानिया हमारे पास आ गई,  तो हम उन पर ईमान ले आये! ऐ परवरदिगार ! हम पर सब्र और हिम्मत के दरवाजे खोले दे(सब्र और हिम्मत दो)अगर हम मर तो मुसलमान ही मारियो!

फिरोन और उन के लोग दिल-दिल में कहते थे तुम हमारे पास कोई निशनी क्यों न लाओ हम पर  कितना भी जादू क्यों न कर लो पर हम तुम्हारे खुदा पर ईमान न लायेगे!

 उन पर तूफ़ान और टिडडीया और जुए और मेंढक और खून की कितनी निशानिया भेजी, पर वो लोग घमंड ही करते रहे और वे लोग गुनागार थे! ये सब बलाए उन पर आयी one week फर्क से हजरत मूसा अलेहिस्सल्ल्म फिरोन को कह आये की अल्लाह तुम पर यह बला भेजेगे, वही बला(मुसीबात) आती, फिर वो परेशांन हो जाते और

हजरत मूसा अलेहिसल्लम की खुशामद करते मूसा हमारे लिये अपने परवरदिगार से दुआ(pray) करो, अगर तुम हम से अजाब को टालवा दोगे तो हम ईमान ले आयेगे और बनी इसराइल को भी तुम्हारे साथ जाने की इजाजत देगे पर जब उन से अज़ाब हट जाता वो आपने वादे या जबान से मुकर जाते! आखिर उन अल्लाह का बहुत बड़ा अज़ाब आ गया!

आधी रात को सारे फिरोनियो देश के लोग का हर आदमी पहला बेटा मर गया! वह मुर्दों के गम में फस गये! मूसा अपनी कौम के लोगो (अच्छे या गुलाम) को ले कर शहर से निकल गए और बीच में समन्दर पड़ता है मूसा खुदा दुआ करते है अल्लाह मूसा हिदायत करते मूसा अपनी लाठी से इशार करो दरिया तुम्हे दूसरी तरफ जाने का रास्ता दे देगा ! फिरोन की फोज़ भी मूसा को पकड़ ने के लिये दरिया रस्ते में आ गई मूसा के साथ जो लोग थे जब दूसरी और निकल गए तो अल्लाह दरिया में फिरोन को उसकी फोज़ के साथ पानी में डूबा दिया!

A फिरोन की DEAD body MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY

3500 साल गुजर चुके है लेकिन फिरोन की लाश(DEAD body) आज तक न गली है न ही सडी है!

मिस्र के एक संग्रहालय(MUZAIM) में आज तक भी लाश देखे तो लगता है फिरोंन की लाश को देख कर ऐसा लगता जैसे कोई आदमी अभी सोया हो!

आज भी फिरोन की लाश(DEAD body) पर न आग असर करती है और न ही पानी यह लाश 1898 में लाल सागर में मिली थी! जिस पर डा मारिस बुकाय ने कई साल तक रिसर्च की थी और कुरान में इसका जिक्र पढकर प्रभावित होकर इस्लाम धर्म आपना लिया था!

हैरत की बात यह है की लगभग 3500 सालो तक समन्दर में रहने के बावजूद उसकी लाश को किसी समुद्री मछली ने नही खाया !

note MUSA ALAIHISSALAM AUR FIRON ISLAMIC STORY की कहानी अपनी पढ़ी अगर आपको मेरी POST अच्छी लगी हो आगे share जरुर करे और लिखने में कही गलती हुई हो COMMENT कर जिससे में उसको ठीक कर सकू !

THANKS

Leave a Comment