Negative thoughts ka negative emotion se kya relationship hai ?

1 Negative thoughts ka negative emotion se relationship kya hai ?

negative emotion का अर्थ है हमारी स्वाभाविक सोच के विपरीत downfall thinking process

जो हमें हमारे काम में success से रोकती है और पतन की और ले जाती है!

जबकि life को अच्छे जीने के लिए life में आने वाली मुश्किलों के लड़ने

और struggle कर के उन से बाहर निकाले के  उसके लिए positive सोच से सही result तक पुहचा जा सकता है !

मन के भीतर या mind में continuous negative emotions को संचय किया जाए

तो उस person का संपूर्ण व्यक्तिव विकृत (ख़राब) कर सकता है !

reads also :

Alkaline water ke 5 top health benefits kya hai

1 Negative thoughts se kya relationship hai ? negative emotion ka

Negativity जिसे नकारात्मकता कहते है first earlier stages में चुपके से कदम के साथ धीरे-धीरे मन में entry करती है

और बाद में पूरी मन या mind प्रभावित करती है जिससे physical body भी बुरी तरफ से प्रभावित होती है !

Negative thoughts या negative emotions को व्यक्त करने के विभिन्न तरीके है

जैसे डर(fear), क्रोध (anger), इर्ष्या (envy), लालच(greed), आलस(sloth), अपराध (guilt) आदि!

अति-उत्साह, जूनून (passion) और प्यार के अच्छी भावनाओं और feeling जो happiness की वजह होती है !

इन में भी नकारात्मक भावनाए पैदा हो सकती है !

हमारे लिए कोई फायदा नहीं होने के बावजूद, negative thoughts या emotions जबरदस्त रूप से powerful है!

वे हमारे lives को बहुत जल्दी नष्ट कर सकते है!

life-long friendship या जीवन भर की दोस्ती को कुछ शब्दों से end हो सकती है!

संदेह (suspicion or doubting) के कारण divorce हो सकता है

reads also :  illusion meaning in Hindi 

अवचेतन मन की शक्ति हिंदी में 

Negative emotions physiological activities (body) बुरी तरह प्रभावित करती है

Thought pattern में गड़बड़ी physical system प्रभावित कर सकती है

और साथ हमारी energy system को imbalance का कारण बनती है

ये नकारात्मक भावनाएँ साधारण चीज़े मानस को भी बुरी तरह प्रभावित कर सकती है!

ठंड (cold), सिरदर्द (headache),

late night या एक दिन भोजन न करना, हमारे behavior को गंभीर रूप से बदलने के लिए काफी है!

हम मामूली दबाव में अशांत feel कर सकते है!

इसे controlled किया जा सकता है!

यादि हम आपनी limitations के साथ-साथ थकन (fatigue), हमारे दर्द (aches), आपनी भूख

(appetite) के प्रति संवेदनशीलता को भी याद रखे,

ताकि हम आपनी भावनाओं को सही (correctly) समझ सके!

आवेशपूर्ण जूनून या शांत तरीके से negative emotions को व्यक्त किया जा सकता है !

क्रोध (anger),

अनियंत्रित इच्छा (uncontrolled desire) , और आत्म-दया ,

अवसाद (depression),

अकेलापन, ऊब,

असंतोष (dissatisfaction),

 Negative thoughts ka negative emotion se kya relationship hai ?

असावधानी और ईर्ष्या के साथ हिंसा negative thoughts को व्यक्त करने के सबसे common example है!

आपके नकारात्मक विचोर को कोई देख नहीं सकता पर आप emotions उनको व्यक्त करते है

की आप  पर negative thoughts हावी है

reads also :  गुस्से को काबू कैसे करे ?

चिंता किसे कहते है anxiety disorder क्या होता है ? 

good emotional और positive thoughts से हमारी life को कैसे प्रभावित करती है ! 

good emotional अच्छी health के लिए भी best होते है साथ ही positive self-images बनती है जिसे friends और अन्य लोगो के साथ अच्छी relationships  बनती है

emotional satus आपके विचारो (thoughts), भावनाओ (feeling), व्यवहार (behaviors) पर हावी होती है जो overall life प्रभावित करती है!

positive thoughts आपने mind डालने से positive emotional बनते है

जो की आपको good decisions लेने में मदद करते है घर में और workplace में जिससे life में

challenges से निपटने में मदद मिलती है!

reads also :

बुरे सपने क्यों आते है ?

1 Negative thoughts ka negative emotion se kya relationship hai ?

Negative thoughts  को कैसे control करे !

हमें खुद झूट नहीं बोलना चाहिए की हम negative होने रुकना नहीं चाहते या नहीं रुकना चाहते है,

अगर negative होने आपने आपका रोकना चाहते है

हमें आपनी life में कुछ new या नया करने करने की जगह बनाना चाहते है तो कुछ छोड़ना भी होगा !

आपने negative thoughts और emotions पर नज़र रखनी पड़ेगी!

सही time पर भावनाओ को सही और balance करना सबसे important निर्णय होता है!

यदि हम तूफ़ान (strom) के दौरान समुद्र में गिरते है

तो हम तैरना (swim) नहीं सीख सकते ! हमें शांत पानी में तैरना (swimming) सीखनी चाहिए!  फिर जा हम सीख सकते है!

negative thoughts से निपटना तब आसान हो जाता है जब हम देखते है की हमारी नकरात्मक भावनाओं

किसी time कम है!

1 negative thoughts  से क्या रिश्ता है? negative emotions  का वोही रिश्ता है जो एक बीज  (seed) का एक पेड़  (tree)  से  होता है

जैसे-जैसे बीज को खाद पानी मिलता रहता वो बड़ा होता जाता है वैसे है negative thoughts हमारे मन में बार-बार आते है

और हम उन को दोहराते रहते है ! negative emotion  एक बड़ा पेड़ बन जाता है ! जिस पर काबू पाना या control करना मुश्किल हो जाता है !

Leave a Comment