Nightmares emotional imbalance ka result hai

Nightmares emotional imbalance ka result hai  बुरे सपने (horrified dreams ) क्यों आते है ?

Dream  जिसे हम और आप सपने भी कहते है जिसे हम रातो को सोने के बाद देखते है! जिसमे कुछ बहुत beautiful dreams भी आते और कुछ horrified dreams बुरे सपने भी आते है!  nightmares emotional imbalance ka result है जिसे में आगे की पोस्ट में आपको detail बताउगा !

horrified dreams की meaning जब हम सो रहे हो! नींद से जागना (waking up) घबराकर (terrified) या scared feeling महसूस कर के जागना !

nightmares किसे कहते है ? 

नींद के दौरान जब आप dreams देख रहे हो भय (fear),आंतक  (terror),संकट (distress), अत्याधिक चिंता (extreme anxiety) की भावनाओ को बाहर लाता है इससे nightmares कहते है! कई बार तो ऐसे dreams देखने वाले इतना डर जाते है

की वो नींद से उठ ही जाते है! और ये सपने इतने ज्यादा भायनक और अत्यधिक चिंता (extreme ANXIETY) की FEELING की होने की वजह हमारे दिल और दिमाग को अन्दर हिला देते है!

कई लोग ऐसे सपने जागने के बाद भी याद रहते है और कुछ तो कई दिनों या महीनो ऐसे dreams याद रहते है! जो उनको डरते रहते है दिनों या महीनो तक!

बुरे सपने (horified  dreams)  ये छोटे बच्चो (children) को ज्यादा आते है और जैसे बड़े होते कैसे dreams में कमी आ जाती है!

पर कभी बड़े (adults) लोगो को भी बुरे सपने आ जाते है !

men से ज्यादा women को ज्यादा बुरे सपने आते है! अधिकतर इसमें कोई treatment require या आवश्यकता नहीं होती है!

Nightmares emotional imbalance ka result hai

ये  बुरे सपने क्यों आते है ?

बुरे सपने का कभी-कभी main reason ये हो सकता है ! की हम junk food या मसालेदार oliy food या भोजन खाते है और खाते ही बिस्तर पर लेट जाते है !

जिससे हमारा वो खाना हमारी body का metabolism हज़म (digestion ) नहीं कर पता है ! जिससे brain activity को बढ देते है ! जिससे हमारे brain nightmares को create कर देता है!

इसके आलावा life में कोई important घटना या situation जिसके कारण मनोवैज्ञानिक (psychotically) रूप painful या दर्दनाक रहे हो जैसे family में daeth, बलात्कार (rape) का शिकार होना,

बहुत अपमान (insult) होना! चिंता (anxiety),

तनाव (stress) जैसी negative emotion का लागतार बढना, या किसी पिछले गलत कामो के लिए अत्याधिक शर्म या guilty महसूस होना!

मन में  डर होना reason चाहे जाने पहचाने हो या अनजाने हो! ये बुरे सपनो के सबसे common reason है !

जिसको आप love या प्यार करते किसी प्रियजन की death हो जाना हो शोक की वजह बन जाता है

बहुत अधिक नशा या शराब (alcohol) का पीना, कोई मानसिक बीमारी (mental illness) से पीड़ित, हताश, उदासी, निराशा,

लम्बे time से शारीरिक (physical) बीमारी का रहना ये सारी  condition nightmare disorder को बनती है!

अंत में, दवाओं को बुरे सपने के reason में भी गिना जाता है especially ऐसी दवाये (medications) जो brain के nervous system और neurotransmitter level पर affect करती है!

जैसे antidepressants, narcotics आदि कुछ दवाओं को लेने से बुरे सपने आने का पता चलता है!

reads also :

Alkaline water ke 5 top health benefits kya hai

Brain stroke ya dimaag ki nas fatne ki pahchaan kya hai

nightmares के common symptoms :

सपने आने के बाद डरना (fear)

डर (fear) औ चिंता (anxiety) और कोई नुकसान होने feeling के साथ नींद से उठना! और nightmares का उठते भी याद रहना !

नींद से चिल्लते (screaming) हुए उठना और कभी सपने याद भी नहीं रहते है!

सोने से डरना ! उस nightmares scenes या दृश्यों को फिर से देखना !

nightmares ज्यादातार आधी नींद के बाद आते है !

nightmares victim persons के pulse और श्वसन (respiration) बहुत तेज़ हो जाती है !

reads also :

Osteoporosis in Hindi symptoms and treatment

Heart attack symptoms most important Treatment kya hai

Nightmares से जुड़े negative emotional या feeling का treatment 

चिंता, तनाव, लागतार depression में रहना सबसे common है !

भय या डर कुछ नुकसान न हो जाए उस का डर की feeling या emotional

नींद में विकार (sleep disorder)

अगर किसी person को बुरे सपने आते हो जिससे की कारण वो गंभीर तनाव या stress लेने लगता हो !

चाहे वो लड़का हो या लड़की उसके family member करीब दोस्त उस support मन की बात share कर सकते है या कोई चिंता या tension उनसे share करे !

अगर इस भी nightmares आने बाद न हो तो किसी professional की help ले!

इसके आलावा, regular रूप आपनी life में fitness को best रखने daily routine बनाये!

aerobic exercise या मांसपेशियों (muscle) के तनाव को कम करने के लिए techniques भी सिख सकते है ! जिसे relaxation therapy कहा जाता है!

ये आपकी चिंता या stress को कम करने में help करेगा !जिससे आपको गहरी नींद आएगी और नींद उठने के बाद आपने आपको fress महसूस करेगे!

बुरे dreams से बचने के लिए अच्छी नींद लेने की कोशिश करे!

खाना खाने के बाद तुरंत bed पर न जाए 3 hours कम से कम interval रखे dinner और bed time या सोने के time में!

Alcohol या नशे की चीज़ से बचे इन के लेने की आदत या addition न बने! ऐसी दवा medicine से बचे जिससे लेने आपको nightmares आने लगे!

उसके लिए आप doctor से मिलकर अगर आपको ज्यादा जरुरत तो उस दवा को बंद करे या कोई दूसरा option दवा का चुने! जो आपकी health के किये better हो!

दोस्तों  मेरी ये  पोस्ट आपको कैसी लगी Nightmares emotional imbalance ka result hai अगर अच्छी लगी हो इससे आगे जरुर share करे !

Leave a Comment